Monday, December 7, 2009

अंतरिक्ष के जौ की ‘स्‍पेस बीयर’, जापान में मची धूम, सिर्फ खुशकिस्‍मतों को मिलेगी

राब के शौकीन लोगों के लिए यकीनन यह एक रोचक खबर है। वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में जौ उपजाकर बीयर तैयार की है और इसका नाम 'स्पेस बार्ली' रखा है। जापान में इन दिनों इसकी धूम मची है, और अंतरिक्ष में उपजाए गए जौ से बने होने के कारण इसे ‘स्‍पेस बीयर’ कहा जा रहा है।

गौरतलब है कि इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (आईएसएस) पर रूसी लैबोरेटरी में पहली बार जौ उपजाया गया है। पांच माह तक चले इस मिशन में रशियन एकेडेमी ऑफ साइंस, जापान की ओकायामा यूनिवर्सिटी और शराब तैयार करने वाली कंपनी सपोरो बेवरीज शामिल रहे। बताते चलें कि अंतरराष्‍ट्रीय अंतरिक्ष स्‍टेशन में जौ गेहूं, चना, मटर आदि जैसी खाद्य फसलों को उपजाने की एक योजना के तहत जौ उपजाया गया। योजना के तहत भविष्‍य में अंतरिक्ष में आलू की खेती भी की जा सकती है।

सपोरो ब्रेवरीज लिमिटेड के अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि 'स्पेस बीयर' के 250 बोतलों के स्पेशल एडिशन की जबर्दस्त मांग है। कंपनी का कहना है कि यह बीयर उस जौ से बनेगा, जिसका बीज अंतरिक्ष के स्पेस स्टेशन की रूसी प्रयोगशाला में पांच महीने तक रहा।

कंपनी के प्रवक्ता यूकी हत्तोरी ने कहा कि हमें कल तक 2000 लोगों से आर्डर मिल गए थे। इसके दाम को देखते हुए हमें लगता है लोगों की इस बीयर में बेहद रूचि है। स्पेस बीयर के एक बोतल की कीमत 20 डालर के लगभग है।

सपोरो ब्रेवरीज लिमिटेड ने कहा कि इस बीयर का आर्डर वह क्रिसमस तक लेगी और फिर लकी ड्रा के द्वारा खुशकिस्मत विजेता और ग्राहकों का चयन किया जाएगा। बीयर की बिक्री से मिले पैसों को शोधकार्यो के लिए दान दे दिया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

अपना बहुमूल्‍य समय देने के लिए धन्‍यवाद। अपने विचारों से हमें जरूर अवगत कराएं, उनसे हमारी समझ बढ़ती है।

 
रफ़्तार Visit blogadda.com to discover Indian blogs Hindi Blogs. Com - हिन्दी चिट्ठों की जीवनधारा चिट्ठाजगत www.blogvani.com